235+ For the love of God shayari in hindi for engalish|भगवान के प्यार के लिए शायरी

235+ For the love of God shayari in hindi for engalish|भगवान के प्यार के लिए शायरी

for the love of god meaning

ना मंदिर में छुपा है,
ना मस्जिद में छुपा है,
जिसके दिल में इंसानियत है,
उस दिल में खुदा है,

Neither is hiding in the temple,
Neither is hiding in the mosque,
Who has humanity in his heart,
God is in that heart,

एक भगवान आपके घर में भी होता है,
जिसे हम माँ बाप के नाम से जानते है,

There is a god in your house too.
whom we know by the name of parents,

अच्छे लोगों की कृष्ण परीक्षा बहुत लेता है,
परंतु साथ नही छोड़ता और बुरे लोगों को कृष्ण,
बहुत कुछ देता है परंतु साथ नही देता,

Krishna takes the test of good people a lot,
But Krishna does not leave the side and the bad people, Krishna,
Gives a lot but doesn’t support

ईश्वर कहते है उदास न हो,
मैं तेरे साथ हूँ पलकों को बंद कर,
और दिल से याद कर मैं कोई और नहीं तेरा विश्वास हुँ,

God says don’t be sad
I’m with you Close your eyelids
And remembering from my heart, I believe in you no one else,

बाज़ार के रंगों में रंगने की मुझे जरुरत नही,
मेरे कान्हा की याद आते ही,
ये चेहरा गुलाबी हो जाता है,

I don’t need to paint in the colors of the market.
As soon as I remember my Kanha,
This face turns pink

भगवान से निराश कभी मत होना,
संसार से आशा कभी मत करना,
नियत अच्छी तो भक्ति भी सच्ची,

Never be disappointed with God,
Never expect from the world,
If the intention is good then the devotion is also true,

जीवन का इम्तिहान आसान नहीं होता,
बिना संघर्ष कोई महान नहीं होता,
जब तक ना पड़े हतोड़े की मार,
तब तक तो पत्थर भी भगवान नहीं होता,

Life’s test is not easy,
No one is great without struggle,
Until the hit of the hammer falls,
Till then even a stone is not a god.

सूरज जब पलके खोले,
मन नम शिवाय बोले,
मैं इस दुनिया से क्यों डरु,
मेरे रक्षक है शिव शंकर भोले,

When the sun opened its eyelids,
Said without heart,
Why am I afraid of this world,
My savior is Shiv Shankar Bhole,

बड़े नादान हैं,
वो लोग जो इस दौर मैं भी,
वफा की उम्मीद करते है,
यहाँ तो दुआ कबूल ना होने पर लोग,
भगवान तक बदल दिया करते है,

very ignorant,
Those people who in this era too,
Hoping for loyalty
Here people do not accept the prayer,
Change up to God

कर्मभूमि पर फल के लिए,
श्रम तो करना ही पड़ता है,
भगवान सिर्फ लकीरें देता है,
रंग तो हमें ही भरना पड़ता है,

For fruit on the land of work,
labor has to be done,
God only gives lines,
We have to fill the color

Leave a Reply

Your email address will not be published.